Ek Ajeeb Si Daud Hai Yeh Zindgi,

Ek Ajeeb Si Daud Hai Yeh Zindgi,
Jeet Jao Toh Kayi Apne Pichhe Chhut Jate Hain,
Aur Haar Jao Toh Apne Hi Pichhe Chhod Jate Hain.


एक अजीब सी दौड़ है ये ज़िन्दगी,
जीत जाओ तो कई अपने पीछे छूट जाते हैं,
और हार जाओ तो अपने ही पीछे छोड़ जाते हैं।

Waqt Ka Pata Nahi Chalta Apno Ke Saath,

Waqt Ka Pata Nahi Chalta Apno Ke Saath,
Par Apno Ka Pata Chalta Hai Waqt Ke Saath,
Waqt Nahi Badalta Apno Ke Saath,
Par Apne Jarur Badal Jate Hain Waqt Ke Saath.


वक़्त का पता नहीं चलता अपनों के साथ,
पर अपनों का पता चलता है वक़्त के साथ,
वक़्त नहीं बदलता अपनों के साथ,
पर अपने ज़रूर बदल जाते हैं वक़्त के साथ।